स्वच्छ्ता को लेकर बच्चों के अच्छे स्लोगन को नगर निगम बनाएगी कॉलरट्यून: अपर नगरायुक्त प्रमोद कुमार

शिक्षा सामाजिक
  • स्वच्छ्ता को लेकर बच्चों के अच्छे स्लोगन को नगर निगम बनाएगी कॉलरट्यून: अपर नगरायुक्त प्रमोद कुमार

  • मेरठ नगर निगम के साथ डीएवी स्कूल से शुरू हुआ केडीएफ का प्लास्टिक फ्री सिटी अभियान।
  • मेरठ नगर निगम के साथ डीएवी स्कूल से शुरू हुआ केडीएफ का प्लास्टिक फ्री सिटी अभियान
  • क्लास- 7, 8, 9, 10, 11, 12 के बच्चों का बना 3 अलग-अलग ग्रुप
  • चित्रकला व स्लोगन के माध्यम से बच्चों ने दिया स्वच्छ्ता का बड़ा संदेश
  • मुख्य अतिथि अपर नगरायुक्त प्रमोद कुमार ने स्कूली बच्चों को दिलाई स्वच्छ्ता, प्लास्टिक फ़्री सिटी की शपथ
  • सौरभ गुप्ता, रोजाना खबर, मेरठ

देश की प्रसिद्ध पर्यावरण व स्वच्छ्ता संस्था कांति देवी फाउंडेशन (केडी फाउंडेशन) (केडीएफ) द्वारा शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने और स्वच्छ रखने के अभियान के तहत शुक्रवार को मेरठ नगर निगम के साथ मिलकर मेरठ के बड़े पब्लिक स्कूल सीजेडीएवी पब्लिक स्कूल, एल-ब्लॉक, शास्त्री नगर में बच्चों के बीच स्वच्छता चित्रकला व स्वच्छता स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।
स्कूली बच्चों ने एक से बढ़कर एक चित्रकला बनाकर और बेहतर स्लोगन के माध्यम से मेरठ शहर को, प्रदेश को और देश को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए और बेहतर पर्यावरण के लिए एक बड़ा संदेश दिया। इसके लिए कुल 3 ग्रुप बनाए गए थे।

जिसमें क्लास 7 और 8 का एक ग्रुप, क्लास 9 और 10 का दूसरा ग्रुप और क्लास 11 और 12 का तीसरा ग्रुप शामिल था। तीनों ही ग्रुप में फर्स्ट, सेकंड व थर्ड आने वाले विजेताओं को मुख्य अतिथि मेरठ नगर निगम के अपर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार, विशेष अतिथि मेडिकल कॉलेज की एसोसिएट प्रोफेसर छाया मित्तल, स्कूल की प्रिंसिपल डॉ. अल्पना शर्मा, सहायक नगर आयुक्त इंद्र विजय, फूड इंस्पेक्टर रवि शेखर, केडीएफ चेयरमैन सुनीता रस्तोगी, अध्यक्ष एडवोकेट हिना रस्तोगी व बून्द फाउंडेशन के अध्यक्ष रवि कुमार ने संयुक्त रुप से प्रशस्ति पत्र और शील्ड देकर बच्चों को सम्मानित किया और उनका उत्साह बढ़ाया।

साथ ही सभी 80 बच्चों को संस्था की ओर से प्रशस्ति पत्र व मेडल प्रदान किया गया ताकि सभी का हौसला बढ़ सके। मुख्य अतिथि अपर नगरायुक्त प्रमोद कुमार ने स्कूली बच्चों को दिलाई स्वच्छ्ता, प्लास्टिक फ़्री सिटी को लेकर शपथ। मेरठ नगर निगम के साथ मिलकर मेरठ के 50 स्कूलों में केडीएफ संस्था के स्वच्छ्ता चित्रकला व स्लोगन प्रतियोगिता करवाने के अपने अभियान के बारे में विस्तार से बताया। संस्था के 4 सालों के प्लास्टिक फ्री सिटी व स्वच्छ्ता के कार्यों के बारे में भी जानकारी दी।कार्यक्रम का संचालन संस्था के सचिव विभु रस्तोगी व शिक्षिका दीप्ति सिमोन ने किया।


इस दौरान मेरठ नगर निगम के अपर नगर आयुक्त मुख्य अतिथि प्रमोद कुमार ने अपने संबोधन में सबसे बड़ी बात कही और यह कि कांति देवी फाउंडेशन(केडीएफ) मेरठ के 50 स्कूलों में बच्चों को प्लास्टिक फ्री सिटी के मुहिम से जोड़ने का जो अभियान शुरू किया है वह वाकई हम सब के लिए गौरव की बात है।

अपर नगरायुक्त प्रमोद कुमार ने आज एक बड़ी घोषणा की है कि जिस बच्चे का स्वच्छ्ता स्लोगन बेहतर व उम्दा होगा उन सभी स्लोगन को मेरठ नगर निगम न केवल अपने हार्डिंग पर लगाएगा बल्कि कॉलर ट्यून बनाएगा। स्कूल की प्रिंसिपल डॉक्टर अल्पना शर्मा ने कहा कि वे केडी फाउंडेशन की प्लास्टिक फ्री सिटी मुहिम की ओर सराहना करती हैं और इस मुहिम की शुरुआत आज उनके स्कूल से हुई इसके लिए वह संस्था को और नगर निगम को बधाई देती हैं। उन्होंने कहा कि हमारा स्कूल प्लास्टिक फ्री सिटी के लिए शिद्दत से काम करेगा। मेरठ मेडिकल कॉलेज की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. छाया मित्तल ने भी बच्चों को प्लास्टिक से होने वाले नुकसान के बारे में विस्तार से बताया और एक कविता के माध्यम से प्लास्टिक से भयावह स्थिति से रूबरू करवाया। सहायक नगर आयुक्त इंद्र विजय सिंह और फूड इंस्पेक्टर रवि शेखर ने भी बच्चों को प्लास्टिक के इस्तेमाल से अभी क्या खतरा है और आने वाले समय में क्या खतरा होने वाले हैं, उसको विस्तार से बताया। आप जब सांस लेते हैं खाना खाते हैं पूरे वातावरण में प्लास्टिक के कण घुले हुए हैं। आप इससे अछूते नहीं हैं लिहाजा जरूरत है कि हम सभी प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद करें। उन्होंने बच्चों से कहा कि वह अपने घरों में अपने परिवार के लोगों में प्लास्टिक फ्री सिटी के लिए पहल करें व और घर से प्लास्टिक को दूर करें।


इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से नरेश उपाध्याय, वरिष्ठ रंगकर्मी अनिल शर्मा, भारत भूषण शर्मा, रविन्द्र वर्मा, त्रिनाथ मिश्रा, उपाध्यक्ष सौरभ गुप्ता, सह-सचिव ऋतु गुप्ता, ईशा रस्तोगी, नितिन रस्तोगी, दीप्ति सिमोन आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.